Yeh ishq Ka junoon hai, koi ek rat ki khumari Nahi, sirf mehboob ke didar se mitega yeh Marz Kisi Hakeem ke bas ki yeh bimari Nahi
यह इश्क का जुनून है कोई एक रात की खुमारी नही, सिर्फ महबूब के दीदार से मिटेगा मर्ज यह किसी हक़ीम के बस में यह बीमारी नही

Author: Rooh

hyy मे एक शायर हुँ और मे शायरी करता हुँ

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *