तुमको चाहा है औऱ चाहेगे हर पल बस यही चाहत है,  तेरा प्यार ना सही दीदार रोज हो जाये यही तमन्ना है

Author: Rooh

hyy मे एक शायर हुँ और मे शायरी करता हुँ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *