हाथो मे मशाल चाहिए

हाथो मे मशाल चाहिए

रक्त मे उबाल चाहिए

लहरायेगे हम भगवा

सीने मे जोश ओ जूनून चाहिए

Author: Rooh

hyy मे एक शायर हुँ और मे शायरी करता हुँ

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *