पगली तू तो सिर्फ सुख मे चाइए

(1) पगली तू तो सिर्फ सुख मे चाइए,

दुख के लिए तो मेरे यार काफी है

❤❤❤❤❤❤

(2) खुदा ने कहा दोस्ती न कर,

दोस्ती मे तु खो जायेगा

मैनै कहा जमीन पर आकर मेरे दोस्त से तो मिल

तु भी उस पर फना हो जाएगा

❤❤❤❤❤❤

(3) अच्ची किताबे और सच्चे दोस्त,

तुरंत समझ मे नही आते पर काम जरुर आते है

❤❤❤❤❤❤

(4) जिस दिन जिस गली मे मेरे दोस्तो का झगडा होगा,

उस दिन उस गली मे मेरे हजारो दोस्तो का मेला होगा

❤❤❤❤❤❤

(5) दोस्तो से टूट कर रहोगे तो कुत्ते भी सतायेगे,

और दोस्तो से जूडे रहोगे तो शेर भी घबरायेगे

❤❤❤❤❤❤

(6) मोहब्बत तो फिर भी दिल से हो जाती है

जिगर चाहिए दोस्ती के लिए

♥♥♥♥♥♥

(7) सच्चे दोस्त हमे कभी गिरने नही देते ना

किसी की नजरो मे ना किसी के कदमो मे

♥♥♥♥♥♥

(8) अपनी जिदगी मे हमे बे वजह मत समझना

क्युकी पलके आँखो पर कभी भोज नही होती

♥♥♥♥♥♥

(9) friends are gods way of taking care of us

♥♥♥♥♥♥

(10) कुछ मीठी सी ठडक है आज इन हवाओ मे

शायद दोस्तो की यादो का कमरा खुला रह गया है

♥♥♥♥♥♥

Author: Rooh

hyy मे एक शायर हुँ और मे शायरी करता हुँ

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *